अपना उत्तर प्रदेश

वेंटिलेटर पर थी डेडबॉडी, डॉक्टर कहते रहे मरीज जिंदा है: मुरादाबाद में प्राइवेट अस्पताल के ICU का वीडियो वायरल, डेंगू से हुई थीं 3 मौत

मुरादाबाद के एक प्राइवेट अस्पताल के ICU का वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें मरीज की डेडबॉडी को वेंटिलेटर पर रखकर तीमारदारों को गुमराह करने का आरोप है।

मुरादाबाद के एक प्राइवेट अस्पताल के ICU का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें मरीज का तीमारदार कह रहा है कि मरीज की मौत के बावजूद डॉक्टर ICU में वेंटिलेटर पर डेडबॉडी को रखे रहे।

परिजनों से कहा जाता रहा कि मरीज की सांस चल रही है। ICU में किसी डॉक्टर या स्टाफ नर्स के मौजूद नहीं होने और मरीजों को भगवान भरोसे छोड़े जाने की बात भी कही गई है। वीडियो शहर के ब्राइट स्टार हॉस्पिटल का बताया गया है। जहां सोमवार रात डेंगू से 3 मरीजों की मौत हो गई थी। इसके बाद परिजनों ने डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा भी किया था।

वीडियो में दावा है कि ICU में डॉक्टर और नर्स नहीं हैं, गंभीर मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ा गया है।

वीडियो में दावा है कि ICU में डॉक्टर और नर्स नहीं हैं, गंभीर मरीजों को भगवान भरोसे छोड़ा गया है।

सोमवार रात हुई थीं यहां तीन मौतें
मुरादाबाद ब्राइट स्टार हॉस्पिटल में सोमवार रात तीन डेंगू मरीजों की मौत हो गई थी। मरने वालों में संभल के मढ़न निवासी इंद्रपाल (47), कटघर निवासी मिनी (22) और मूंढापांडे के पूर्व ब्लॉक प्रमुख उस्मान (60) शामिल थे। उस्मान इस अस्पताल में 8 दिन से एडमिट थे। जबकि इंद्रपाल और मिनी को सोमवार को ही अस्पताल लाया गया था।

मरीजों की मौत के बाद परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल में जमकर हंगामा किया था। अस्पताल की ओर से डॉ. सालिम बुखारी ने कहा था कि तीनों मरीजों की मौत डेंगू से हुई है। जिन्हें गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था। डॉ. बुखारी ने कहा था कि इंद्रपाल और मिनी की मौत अस्पताल में हुई। जबकि तीसरे मरीज उस्मान को परिजन पहले ही अस्पताल से ले गए थे।

वीडियो शहर के ब्राइट स्टार हॉस्पिटल का बताया जा रहा है। जहां सोमवार रात 3 मरीजों की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया था।

वीडियो शहर के ब्राइट स्टार हॉस्पिटल का बताया जा रहा है। जहां सोमवार रात 3 मरीजों की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा किया था।

डेथ ऑडिट में झूठा निकाला अस्पताल का दावा
CMO डॉ. मिलिंद गर्ग ने पूरे मामले पर जांच के आदेश दिए थे। CMO ने बताया कि डेथ ऑडिट रिपोर्ट उन्हें मिल गई है। इसमें पता चला है कि मरने वाले तीनों मरीजों में से सिर्फ मिनी को डेंगू था। बाकी 2 मरीज डेंगू संक्रमित नहीं थे। जबकि अस्पताल ने दावा किया था कि तीनों मरीज डेंगू से बुरी तरह प्रभावित थे। ICU के वायरल वीडियो की बाबत CMO का कहना है कि वीडियो उनके पास आने पर वह उसकी जांच कराकर जरूरी एक्शन लेंगे।

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान भी इस अस्पताल में 1 घंटे में 6 कोरोना सक्रमितों की मौत के बाद हंगामा हुआ था।

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान भी इस अस्पताल में 1 घंटे में 6 कोरोना सक्रमितों की मौत के बाद हंगामा हुआ था।

अस्पताल ने झाड़ा पल्ला

ब्राइट स्टार हॉस्पिटल के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर मुकेश कुमार का कहना है कि ICU में मरीज की डेडबॉडी के वेंटिलेटर पर होने की कोई वीडियो उन्हें नहीं मिली है। बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान इस अस्पताल में 1 घंटे के भीतर 6 कोरोना संक्रमितों की मौत के बाद भी भीड़ ने हंगामा किया था।

CMO डॉ. मिलिंद गर्ग का कहना है कि डेथ ऑडिट में सिर्फ एक मरीज की डेंगू से मौत की पुष्टि हुई है।

CMO डॉ. मिलिंद गर्ग का कहना है कि डेथ ऑडिट में सिर्फ एक मरीज की डेंगू से मौत की पुष्टि हुई है।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button