अपना उत्तर प्रदेशजॉब्स

UPSSSC Lekhpal Exam 2022: ये रहा लेखपाल परीक्षा का पैटर्न और सिलेबस, जरूर डालें एक नजर

UPSSSC Rajyaseva Lekhpal Recruitment 2022: उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) द्वारा लेखपाल के 8085 पदों पर बंपर भर्ती निकाली गई है। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू हो गया है, जो 28 जनवरी 2022 तक जारी रहेगा। वहीं, आयोग द्वारा परीक्षा के तारीख की घोषणा बाद में की जाएगी। अगर आप भी इस भर्ती का इंतजार कर रहे थे और इस परीक्षा में बैठना चाहते हैं तो आपकी तैयारी पुख्ता होनी चाहिए। इसलिए, यहां पर आपके लिए इस परीक्षा का पैटर्न और लेटेस्ट सिलेबस लेकर आए हैं। जिसके माध्यम से आप अपनी तैयारी शुरू कर सकते हैं।

लेखपाल परीक्षा का पैटर्न (Lekhpal Exam Pattern)

इस परीक्षा में इस बार एक बड़ा बदलाव किया गया है। अब इस भर्ती से इंटरव्‍यू को हटा दिया गया है, अर्थात अब अभ्यर्थियों को इंटरव्‍यू की प्रक्रिया से नहीं गुजरना पड़ेगा। वहीं लिखित परीक्षा की बात करें तो यह ऑनलाइन मोड में आयोजित की जाएगी। इसकी परीक्षा 100 अंकों की होगी और इसमें 100 प्रश्न होंगे जो सभी चार खंडों से 25 प्रश्नों के रूप में विभाजित होंगे। सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान और ग्राम्य समाज एवं विकास के 25-25 सवाल पूछे जाएंगे। परीक्षा की कुल समय अवधि 2 घंटे यानी 120 मिनट की होगी। सभी प्रश्न बहुविकल्पीय होंगे, हर गलत उत्तर पर 1/4 का नकारात्मक अंकन होगा।

लेखपाल परीक्षा सिलेबस (Lekhpal Exam Syllabus)

सामान्य हिंदी

अलंकार, रस, समास, पर्यायवाची, विलोम, संधियां, संधि विच्छेद, विलोमार्थी शब्द, बहुवचन, रचना एवं रचयिता, तत्सम एवं तद्भव, लोकोक्तियां एवं मुहावरे, समानार्थी और पर्यायवाची शब्द, अनेक शब्दों के लिए एक शब्द, क्रिया से भाववाचक संज्ञा बनाना, कहावतें व लोकोक्तियां के अर्थ, वाक्यांशों के लिए शब्द निर्माण, किसी वाक्य को अन्य लिंग में परिवर्तन, मुहावरा और उनका अर्थ, अशुद्ध वाक्यों के शुद्ध रूप, वर्तनी की सामान्य अशुद्धियां तथा शब्दों के शब्द रूप, वाक्य संशोधन- लिंग, वचन, कारक, वर्तनी, त्रुटि से संबंधित अनेकार्थी शब्द, इत्यादि।

गणित

गणित में संख्या पद्धति, प्रतिशतता, लाभ हानि, सांख्यिकी आंकड़ों का वर्गीकरण, बारंबारता, बारंबारता बंटन, सारणीयन, संचयी बारंबारता के बारे में पूछा जाएगा। आंकड़ों का निरूपण, दंड चार्ट, पाई चार्ट, आयत चित्र, बारम्बारता बहुभुज, केंद्रीय माप, समांतर माध्य, माध्यिका एवं बहुलक के बारे में सवाल पूछे जाएंगे। वहीं बीजगणित में लघुत्तम समापवर्त्य एवं महत्तम समापवर्त्य और उसमें संबंध, युगपत समीकरण, द्विघात समीकरण, गुणनखंड, क्षेत्रफल, वृत्त की परिधि एवं क्षेत्रफल के बारे में सवाल पूछे जाएंगे।

सामान्य ज्ञान

सामान्य ज्ञान में सामान्य विज्ञान, राष्ट्र और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की सामयिक घटनाएं, भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारतीय राजव्यवस्था और अर्थव्यवस्था, विश्व भूगोल और जनसंख्या के बारे में सवाल पूछा जाएगा। सामान्य विज्ञान के प्रश्न, दैनिक अनुभव व प्रेक्षण से संबंधित विषयों सहित विज्ञान के सामान्य प्रबोधन व जानकारी पर सवाल पूछे जाएंगे। भारत के इतिहास के अंतर्गत आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक पक्षों की व्यापक जानकारी पर ध्यान देना होगा। भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन पर अभ्यर्थियों से भारतीय संविधान के बारे में सवाल पूछा जाएगा।

ग्राम समाज एवं विकास

ग्रामीण प्रशासन के घटक और राजस्व का कार्य, राजस्व प्रशासन का घटक और कार्य, ग्रामीण विकास के लिए योजना और जिला योजना मशीनरी, भारतीय समाज के कारक, कमजोर वर्गों की समस्याएं और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, ग्रामीण संस्थागत प्रणाली एवं धार्मिक और सहयोग, 1992 के बाद जिला योजना मशीनरी में सुधार, लोगों की भागीदारी और गैर सरकारी संगठन की भूमिका, भारतीय ग्रामीण समाज एवं प्रकृति और विशेषताएं, ग्रामीण सामाजिक परिवर्तन एवं संस्कृतिकरण, ग्रामीण सामाजिक परिवर्तन एवं पश्चिमीकरण, ग्रामीण सामाजिक परिवर्तन और आधुनिकीकरण, ग्रामीण रोजगार के स्रोत आदि।

ग्राम विकास के लिए कुछ केंद्र सरकार की योजनाएं

आदर्श ग्राम योजना, सूखा विकास कार्यक्रम, एमजीएनआरईजीए, जवाहर ग्राम समृद्धि योजना, अन्नपूर्णा योजना, अंत्योदय अन्न योजना, स्वजल धर योजना, मध्याह्न भोजन कार्यक्रम, एनआरएलएम, इंदिरा आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, किसान पेंशन योजना, किसान रथ योजना, अंबेडकर ऊर्जा कृषि सुधार योजना, आम आदमी बीमा योजना, संजीवनी बीमा योजना, मॉडल सिटी योजना, वन्देमातरम योजना और प्रियदर्शनी योजना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button