ताज़ातरीन

बेटी के बेहतर भविष्य के लिए सुकन्या योजना या PPF में कौन सी स्कीम है बेहतर? जानें डिटेल्स

PPF Vs Sukanya Samriddhi Yojana: बच्ची के जन्म के बाद से ही हर माता-पिता की यह कोशिश रहती है कि वह उसके भविष्य के लिए बेहतर निवेश ऑप्शन चुनें. सरकार भी बच्ची की पढ़ाई और शादी को प्रोत्साहित करने के लिए कई तरह की स्कीम लेकर आती रहती है. यहां हम आपको दो सरकारी स्कीम के बारे में बता रहे हैं जिसमें निवेश करने पर बेहतर रिटर्न मिल सकता है. यह स्कीम है- पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund) और सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana). दोनों स्कीम सरकार द्वारा चलाई जाती है. इसके साथ ही दोनों स्कीम मार्केट जोखिमों से दूर है.

बहुत से लोग बेटी के बेहतर भविष्य के लिए दोनों स्कीम में निवेश कर सकते हैं. लेकिन, कई बार निवेशक केवल एक ही स्कीम में निवेश करना चाहते हैं. ऐसे में यह कन्फ्यूजन हो जाता है कि दोनों में से बेहतर स्कीम कौन सी है. तो चलिए हम आपको पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) और सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) के बीच के फर्क के बारे में बताते हैं-

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)
पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) में आप 15 साल के लिए निवेश कर सकते हैं. इस स्कीम का लॉक इन पीरियड 5 साल का है. इस स्कीम में निवेश करने पर आपको इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत छूट का लाभ मिलता है. इस स्कीम में एक वित्त वर्ष (Financial Year) में आपको कम से कम 500 रुपये और ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रुपये निवेश करने का मौका मिलेगा. पीपीएफ में आपको सालाना ब्याज दर करीब 7.1 प्रतिशत मिलता है. अगर आप अचानक पैसों की जरूरत पड़ गई है तो आप 5 साल के बाद कुल जमा राशि का 50 प्रतिशत तक निकाल सकते हैं. इस स्कीम में आप बेटा और बेटी दोनों के लिए ही निवेश कर सकते हैं.

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)
सुकन्या समृद्धि योजना को सरकार ने बच्चियों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए लॉन्च किया है. इस स्कीम में निवेशक को 7.6 प्रतिशत ब्याज दर सालाना मिलता है. इस स्कीम में आपको एक साल के अंदर कम से कम 250 रुपये जमा करना अनिवार्य है. वहीं ज्यादा से ज्यादा आप इस स्कीम के तहत आप 1.5 लाख रुपये निवेश कर सकते हैं. इस स्कीम के तहत बच्ची के 0 साल से लेकर 10 साल तक के होने पर खाता खुलवाया जा सकता है.

बच्ची के 18 साल के बाद वह पढ़ाई के लिए खाता से आंशिक निकासी कर सकती है. बच्ची के 21 साल पूरे होने के बाद वह खाते से पूरे पैसे निकाल सकती हैं. इस स्कीम में आप बच्ची के 15 साल के होने तक निवेश कर सकते हैं और जमा राशि पर आपको 21 साल तक ब्याज सरकार द्वारा दिया जाएगा. अगर आप किसी दोनों में से किसी एक स्कीम में ही निवेश करना चाहते हैं तो सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)  में आपको ज्यादा रिटर्न मिलेगा.

Back to top button