ताज़ातरीन

Omicron Variant: ओमिक्रोन के नए वेरिएंट से संक्रमित होने पर रिपोर्ट आ सकती है निगेटिव

Omicron Sub Variant Ba.2: ओमिक्रोन (Omicron Variant) का सब वेरिएंट बीए.2 तेजी से दुनिया में फैल रहा है. बता दें केवल 10 हफ्तों में ही ये 57 देशों में डिटेक्ट किया जा चुका है. ओमिक्रोन के ओरिजिनल स्ट्रेन BA.1 से ज्यादा संक्रामक है. वहीं इसका सबसे बड़ा खतरा यह है कि मौजूदा कोरोना टेस्ट भी इसे आसानी से नहीं पकड़ पा रहे हैं. इसका मतलब यह है कि इसके लक्षण होने के बाद भी लोगों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आ रही है. ऐसे में हम यहां आपको बताएंगे कि अगर आप ओमिक्रोन के नए वेरिएंट से संक्रमित हो जाएं तो आपको क्या करना चाहिए.चलिए जानते हैं.

BA.2 सब वेरिएंट (Sub Variant Ba.2) को पकड़ पाना क्यों है मुश्किल?

BA.2 सब वेरिएंट जिसे स्टेल्थ ओमिक्रोन (Omicron Variant) नाम दिया गया है बाकी वेरिएंट्स से अलग है. इसमें ऐसे जरूरी म्यूटेशन की कमी है जो शरीर में कोरोनावायरस की मौजूदगी का पता लगाने के लिए जरूरी होता है. जिसके कारण बीए.2 स्ट्रेन को आरटी-पीसीआर टेस्ट से पकड़ना भी मुश्किल हो रहा है. यह टेस्ट कोरोना के लिए एक अच्छा टेस्ट माना जाता है. बता दें यदि आपको बीए.2 सब वेरिएंट का संक्रमण होने पर कोविड लक्षण आते हैं तो हो सकता है कि जांच करवाने पर आपकी रिपोर्ट निगेटिव आए. ऐसे केस को फॉल्स निगेटिव माना जाता है. ऐसे केस में हमें सतर्क रहने की जरूरत है.

संक्रमित होने पर रिपोर्ट निगेटिव आये तो क्या करें?

ओमिक्रोन के माइल्ड लक्षण जैसे सर्दी, खांसी और बुखार को नजरअंदाज न करें. ऐसा होने पर तुरंत कोरोना टेस्ट करवाएं. अगर रिपोर्ट निगेटिव आती है तो 24 से 48 घंटे बाद दोबार टेस्ट करवाएं. वहीं अगर पहली बार में रैपिड एंटीजन टेस्ट किया था तो दूसरी बार में RT-PCR टेस्ट कराना जरूरी है. इसी टेस्ट के जरिए सही रिजल्ट मिलते हैं.  वहीं बता दें अगर लक्षण दिखने के बाद भी रिपोर्ट निगेटिव आये तो भी आपको खुद को आइसोलेट कर लेना चाहिए.

क्या है बीए-2 सब वेरिएंट के लक्षण?

ओमिक्रोन बीए.2 के लक्षण बीए.1 सब वेरिएंट जैसे ही है. इनमें बहती नाक, थकान, सिर दर्द, लगातार खांसे, सांस लेने में कठिनाई, मांसपेशियों में दर्द, गले में खराश, उल्टी और दस्त जैसे लक्षण शामिल है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधितरीक़ों व दावों की Awadh Voice पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button