देश

Ludhiana Court Blast: बम लगाते वक्त हुआ धमाका, शिकारी खुद हुआ शिकार!

लुधियाना के कोर्ट परिसर में हुए बम धमाके में अब तक किसी संदिग्ध को पकड़ा नहीं गया है लेकिन पुलिस ने अनुमान लगाया है कि जो शख्स बम प्लांट करने आया था, वहीं बम धमाके में मारा गया। इस मामले में एक शख्स की मौत हुई है और 6 लोग घायल हुए हैं। मृतक का DNA टेस्ट कराया जा रहा है और सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं। पंजाब सरकार ने राज्य में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। देर रात NSG, NIA और फॉरेंसिक की टीमें भी मौके पर पहुंची और सैंपल जमा किए।

मारे गए शख्स पर ही आरोपी होने का शक

आपको बता दें कि चुनावों से ठीक पहले जिस लुधियाना ब्लास्ट ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है अब उस धमाके के बारे में कहा जा रहा है कि जो शख्स कोर्ट कैंपस में बम प्लांट करने आया था, वो अपने ही बम का शिकार बन गया। पुलिस के मुताबिक मृतक घटनास्थल पर IED प्लांट कर रहा था और उसी समय ब्लास्ट हो गया।

NSG, NIA और फॉरेंसिक टीमें मौके पर पहुंचीं

धमाके की जांच भी तेजी से चल रही है। दिल्ली से NSG, NIA और नेशनल बम डेटा सेंटर की टीमें पहुंची। चंडीगढ़ से एंटी बम स्क्वायड और फोरेसिंक एक्सपर्ट भी मौके पर पहुंचे। ब्लास्ट के 10 घंटे बाद, रात सवा दस बजे NSG टीम ने मलबे में पड़ी डेडबॉडी को मौके से हटाया।

गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से मांगी रिपोर्ट

पंजाब बॉर्डर राज्य है और पाकिस्तान से गड़बड़ी की आशंका वहां हमेशा बनी रहती है ऐसे में गृह मंत्रालय ने धमाके को लेकर पंजाब सरकार से रिपोर्ट मांगी है। गृह सचिव अजय भल्ला ने पंजाब के आला अफसरों से बात की और इसके बाद गृहमंत्री को जानकारी दी। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा और पंजाब पुलिस के DGP भी धमाके के बाद घटनास्थल पर पहुंचे। कल पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी की लुधियाना के ही रायकोट में रैली थी और ये धमाका उनकी रैली से कुछ घंटे पहले हुआ।

पहले बेअदबी की घटना और अब ब्लास्ट…चुनाव से पहले इसे पंजाब में माहौल बिगाड़ने की साजिश के तौर पर देखा जा रहा है। ब्लास्ट में आतंकी एंगल होने की वजह से NIA और NSG एक्टिव हो गईं हैं। दोनों एजेंसियों के अधिकारी लुधियाना में डेरा डाले हुए हैं। दोनों एजेंसियों के अधिकारी पंजाब पुलिस की फोरेंसिक टीम के साथ मिलकर जांच कर रहे हैं। जांच के बाद ही साफ हो पाएगा कि धमाका में विदेशी ताकतों का हाथ है या फिर किसी और का।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button