ताज़ातरीन

LIC IPO का निवेशक कर रहे बेसब्री से इंतजार, जानें क्या बोलीं वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

LIC IPO Update: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM Nirmala Sitharaman) ने कहा कि भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) को लेकर बाजार में काफी रुचि और चर्चा है. उन्होंने यह भी संकेत दिया कि आईपीओ चालू वित्त वर्ष में ही आएगा. सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी ने 13 फरवरी को सरकार की पांच प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने को लेकर सेबी के पास विवरण पुस्तिका जमा की है. इस हिस्सेदारी की बिक्री से 63,000 करोड़ रुपये जुटाये जाने की उम्मीद है.

चालू वित्त वर्ष में आएगा IPO
उन्होंने कहा, ‘‘अब जब डीआरएचपी (DRHP) आ गया है, तो बाजार में इसको लेकर रुचि और चर्चा है. मुझे खुशी है कि इसे जिस तरह से तैयार किया गया है, उसमें शेयरधारकों की भी भूमिका है जिस तरह से इसे तैयार किया गया है, उसने बहुत रुचि पैदा की है. हम इसको लेकर आगे बढ़ेंगे.’’ यह पूछे जाने पर कि क्या आईपीओ (LIC IPO) चालू वित्त वर्ष में आएगा, सीतारमण ने कहा, ‘‘डीआरएचपी (DRHP) दो साल पहले तो जारी नहीं हुआ है…’’

LIC ने जारी किया बयान
इस बीच एलआईसी (LIC) ने स्पष्ट किया कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) के पॉलिसीधारक आईपीओ में रियायती मूल्य पर शेयरों के लिए पात्र नहीं हैं. एलआईसी ने एक बयान में कहा, ‘‘यह एक समूह बीमा उत्पाद है और पीएमजेजेबीवाई पॉलिसीधारक रियायती मूल्य पर शेयर प्राप्त करने के पात्र नहीं हैं.’’

जानें क्या बोले चेयरमैन?
जीवन बीमा कंपनी के चेयरमैन एम आर कुमार के सोमवार को दिये गये बयान के बाद एलआईसी ने स्पष्टीकरण जारी किया है. कुमार ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा था कि पीएमजेजेबीवाई (PMJJBY) ग्राहक भी पॉलिसीधारकों के लिए उपलब्ध लाभों के लिए पात्र हैं. इसके एक दिन बाद यह स्पष्टीकरण आया है. हालांकि, एलआईसी ने बयान में कहा कि यह ‘‘अनजाने में उल्लेख किया गया.’’

यह भी पढ़ें

Back to top button