अपना उत्तर प्रदेशगोरखपुर

गोरखपुर…स्कूल कैंपस में शिक्षिका की संदिग्ध मौत का मामला: फंदे पर लटकने से ही हुई थी अर्चना की मौत

Gorakhpur Teacher suicide: पहले तो अर्चना के भाई ने पुलिस को तहरीर दी थी, लेकिन अब वे किसी तरह की कार्रवाई नहीं चाहते।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में एक सरकारी स्कूल की शिक्षिका की संदिग्ध मौत के फंदे में गला कसने से ही हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में इसकी पुष्टि भी हो गई है। हालांकि शिक्षिका अर्चना द्विवेदी ने खुदकुशी क्यों की? अब पुलिस इसकी जांच में जुट गई है। वहीं, घटना के बाद भी शिक्षिका के पति नितिन से पुलिस को इसकी सूचना दिए बिना ही शव लेकर घर चले गए, पुलिस इसकी भी जांच कर रही है। हालांकि पहले तो अर्चना के भाई ने पुलिस को तहरीर दी थी, लेकिन अब वे किसी तरह की कार्रवाई नहीं चाहते।

बुधवार की रात मिली थी शि​क्षिका की लाश
दरअसल, पिपराइच इलाके में स्थित विकास भारती स्कूल में बुधवार की शिक्षिका की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। विकास भारती स्कूल के प्रिंसिपल ने रात 12 बजे स्कूल कैंपस में रहने वाली शिक्षिका के फांसी लगाने की सूचना पुलिस को दी थी। लेकिन जब पुलिस पहुंची तो वहां कोई नहीं मिला। सुबह पता चला कि शिक्षिका की मौत के बाद उसका पति अंतिम संस्कार के लिए शव को अपने अपने घर बिलंदपुर ले गया है। स्कूल के प्रिंसिपल एके पाण्डेय के मुताबिक शव के साथ पुलिस ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें मौत की वजह डिप्रेशन बताई गई है।

सुसाइड नोट में बताया था डिप्रेशन
अब पुलिस पीएम रिपोर्ट और शव के पास मिले सुसाइड नोट में अंकित अवसाद के कारणों को तलाशनें में जुटी है। जब कि मृतक के मायके वाले इस मामले को किसी भी तरह के तूल देनें से इंकार कर दिया है। वहीं, शिक्षिका के पति नितिन द्विवेदी विकास भारती स्कूल में एडमिन विभाग में कार्यरत है।जबकि पत्नी अर्चना द्विवेदी प्राथमिक विद्यालय खजनी में अध्यापिका थीं। कथित तौर बुधवार देर शाम साड़ी से गले में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।

मायके वालों ने कार्रवाई से किया इंकार
शिक्षिका अर्चना द्विवेदी दो बेटियां 4 साल और 8 साल की हैं। पुलिस के मुताबिक अर्चना द्विवेदी दो भाई दो बहन बहनों में सबसे छोटी थीं। जिनकी शादी नितिन द्विवेदी से 2007 में हुई थी। अर्चना द्विवेदी के भाई प्रणव त्रिपाठी ने पुलिस को तहरीर दिया था, लेकिन अब वे किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं चाहते। अर्चना द्विवेदी कैंट थाना अंतर्गत बिलंदपुर में उनका ससुराल था जो कभी विकास भारती स्कूल में अपने पति के साथ रहती थीं और कभी अपने ससुराल बिलंदपुर में रहा करती थीं।

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button