अपना उत्तर प्रदेशगोण्डा

गोण्डा: मुसीबतों से बचते बचाते यूक्रेन से वतन पहुंचा गोण्डा का जैनुद्दीन

गोंडा। रूसी हमले के बाद यूक्रेन में गूंजती बमों के धमाकों की आवाज के बीच फंसा गोंडा निवासी छात्र जैनुद्दीन हौसले की उड़ान के सहारे तमाम मुसीबत पार कर मंगलवार को सकुशल वतन वापस लौट आया। इसकी जानकारी के बाद घर पर बेटे की सलामती की दुआ कर रहे परिवारीजनों में खुशी की लहर दौड़ गयी। सभी लखनऊ से बस मार्ग से गोंडा आ रहे जैनुद्दीन की बेसब्री से प्रतीक्षा में देर शाम तक जुटे रहे।

जिले के छपिया थाना क्षेत्र उजागरपुर रेहरवा गांव का रहने वाला जैनुद्दीन अंसारी पुत्र अब्दुल्ला अंसारी मंगलवार को यूक्रेन में रूस से चल रही जंग के दौरान मुसीबतों से बचते बचाते वतन लौट आने में सफल रहा। हैदराबाद से बीटेक कर रहे जैनुद्दीन के छोटे भाई अजहरूद्दीन अंसारी ने बताया कि बड़ा भाई यूक्रेन में एमबीबीएस की चौथे वर्ष की पढ़ाई कर रहा है। यूक्रेन में रूस से जंग शुरू हो जाने के बाद देश के अन्य तमाम छात्र-छात्राओं के साथ उसका भाई भी युद्ध ग्रस्त यूक्रेन में फंस गया था। इस दौरान पूरा परिवार और आस पास के लोग जैनुद्दीन की सलामती की दुआ कर रहे थे।

वतन वापसी की राह में तमाम अड़ंगे लगने के बाद भी जैनुद्दीन ने हिम्मत नहीं हारी। बुलंद हौसले के साथ तमाम रुकावटों को पार करते हुए वह रोमानिया एयरपोर्ट तक पहुंचा। वहां से ऑपरेशन गंगा के तहत फ्लाइट से उसे मुंबई पहुंचाया गया। मंगलवार को फ्लाइट से उसे मुंबई से लखनऊ लाया गया। जहां से वह बस के माध्यम से गोंडा के लिए रवाना हुआ है और देर रात तक वह अपने पैतृक गांव उजागरपुर रेहरवा में पहुुंचेगा। गोंडा जनपद के खरगूपुर क्षेत्र के रहने वाले एक भाई-बहन समेत करनैलगंज व इटियाथोक के एक-एक छात्र यूक्रेन में अभी भी फंसे हैं। इन छात्रों के परिवार के लोग जिला प्रशासन से लेकर प्रधानमंत्री तक से अपने बच्चों की सकुशल वापसी की गुहार भी लगा चुके हैं।

Source

यह भी पढ़ें

Back to top button