अपना उत्तर प्रदेशगोण्डा

गोण्डा: बाप ही निकला 16 वर्षीय किशोरी का हत्यारा, बड़े भाई पर लगाया था हत्या का आरोप

Gonda News Hindi: पुलिस अधीक्षक निर्देशन में थाना परसपुर पुलिस द्वारा हत्या की घटना का खुलासा किया गया, जाँच में पिता ही बेटी...

गोण्डा: जिले के परसपुर थाना के अंतर्गत चरसडी के खरकवां गांव में 18 नवंबर की सुबह 16 वर्षीय किशोरी शताक्षी मिश्रा का शव घर के अंदर लटकता मिला था | परसपुर थाना के अंतर्गत चरसडी के खरकवां गांव में 16 वर्षीय शताक्षी मिश्रा की हत्या मामले का आज यानी रविवार को पुलिस ने खुलासा किया है। शताक्षी मिश्रा की हत्या उनके पिता उपेंद्र मिश्र ने गला दबाकर की थी। प्रेम प्रसंग के चलते उपेंद्र मिश्र ने नाबालिग बेटी की हत्या करके शव को दुपट्टे से बांधकर लटका दिया था| इसके बाद उपेंद्र मिश्र ने अपने भाई भाई शोभाराम मिश्र पर हत्या करने करने का आरोप लगाया था| 

पुलिस अधीक्षक निर्देशन में थाना परसपुर पुलिस द्वारा हत्या की घटना का खुलासा किया गया| जाँच में पिता ही बेटी का हत्यारा निकला| पुलिस ने आरोपी पिता उपेंद्र मिश्र को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक,”दिनांक 18.11.2021 को थाना परसपुर क्षेत्र के अन्तर्गत ग्राम खरिकवा चरसड़ी में एक नाबालिग लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी गयी थी। जिसके संबंध में मृतका की मां रुमन मिश्रा पत्नी उपेन्द्र मिश्रा निवासी खरिकवा चरसड़ी द्वारा थाना परसपुर मे मामला दर्ज कराया गया था।

नाबालिग लड़की की गला दबाकर हत्या मामले का पुलिस अधीक्षक गोण्डा संतोष कुमार मिश्रा ने संज्ञान में लेते हुए घटना के शीघ्र व सफल अनावरण के लिए अपर पुलिस अधीक्षक गोण्डा के नेतृत्व में थाना परसपुर पुलिस व स्वॉट/सर्विलांस की टीम गठित कर घटना के खुलासे के लिए लगाया गया था।

अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज के नेतृत्व में थाना परसपुर व स्वॉट/सर्विलांस की टीम द्वारा घटना की गहनता से जाँच पड़ताल की गयी तो विवेचना के दौरान ज्ञात हुआ कि कुछ दिन पूर्व उपेन्द्र मिश्रा के पिता की तेहरवीं संस्कार था जिसमें उनके बड़े भाई अरविन्द मिश्रा के साले का लड़का आदेश मिश्रा पुत्र हरिनाथ मिश्रा नि0 भेलसर थाना रुदौली जनपद अयोध्या उनके गांव आया था जो उपेन्द्र मिश्रा की पुत्री (मृतका) से बातचीत करने लगा था। 

इसकी जानकारी उपेन्द्र मिश्रा को होने पर अपनी लड़की को कई बार बातचीत करने से मना किया था परंतु लड़की (मृतका) के न मानने पर उपेन्द्र मिश्रा ने अपनी लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी व अपने बड़े भाई को फंसाने के लिए हत्या का इल्जाम लगाकर अभियोग पंजीकृत करवाया था।

पुलिस ने बताया,”घटना के सूक्ष्म अन्वेषण व गहनता से प्रकरण में लड़की के पिता की संदिग्धता पायी गयी। जिसके आधार पर थाना परसपुर पुलिस व स्वाट/सर्विलांस की संयुक्त टीम द्वारा प्रकाश में आये आरोपी अभियुक्त को आज दिनांक 21.11.2021 को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान अभियुक्त उपेन्द्र मिश्रा ने बताया कि लोकलाज व सामाजिक अपमान से बचने के लिए उसने घटना को अंजाम दिया था। घटना के सफल अनावरण के लिए पुलिस अधीक्षक गोण्डा द्वारा उत्साहवर्धन हेतु टीमों को 25,000 रुपये नगद पुरस्कार से पुरस्कृत किया है। 

बता दें कि,”एक निजी स्कूल की कक्षा 11की छात्रा चरसड़ी के खरिकवा गांव निवासी शताक्षी मिश्रा का गुरुवार की सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से शव लटकता हुआ मिला था। पीड़ित मां रुमन मिश्र पत्नी उपेंद्र मिश्र ने पुलिस को तहरीर देकर कहा कि पट्टीदारों से पेड़ को लेकर विवाद चल रहा था। दबंग पेड़ को जबरदस्ती काट रहे थे। वह पेड़ कटान रोकने के लिए गई हुई थी। विवाद के दौरान दबंग लाश की ढेर लगा देने की धमकी देकर चले गए। वह जब घर पहुंची तो उसकी पुत्री का शव फंदे से लटक रहा था। 

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button