अपना उत्तर प्रदेशगोण्डा

गोण्डा: गर्लफ्रेंड की शौक पूरी करने के लिए करते थे लूट, कोई कर रहा पढ़ाई तो कोई आर्मी की तैयारी

गोंडा में पुलिस ने आज लूटपाट और चोरी के एक ऐसे मामले का खुलासा किया है जिसमें गिरफ्तार बदमाशों ने बताया कि वे गर्लफ्रेंड की शौक पूरी करने के लिए लूट और चोरी करते थे...

गोंडा से चोरी और लूट की फिल्मी स्टाइल में वारदात सामने आई है. आपने लूट और छिनैती की खबरें तो सुनी होंगी लेकिन यह मामला कुछ अलग हटकर है. जिसमें कुछ अपराधिक किस्म के लोग अपनी गर्लफ्रेंड की फरमाइश पूरी करने के लिए लूट और चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे.

थाना कोतवाली कर्नलगंज और कोतवाली देहात क्षेत्रों में ये शातिर अपराधी घटना को अंजाम देते थे. कोतवाली कर्नलगंज और देहात में पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर मामले की जांच में जुटी हुई थी. कोतवाली देहात टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 5 लुटेरों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुलासा किया है कि पकड़े गए पांच अंतर्जनपदीय लुटेरों ने पूछताछ के दौरान यह कबूल किया है अपनी -अपनी गर्लफ्रेंड की फरमाइश को पूरा करने के लिए वे लूटपाट करते थे. पकड़े गए शातिर लुटेरों के पास से दो मोटरसाइकिल, 9 मोबाइल और 3000 नगद बरामद हुए हैं. सभी लुटेरे गोंडा के विभिन्न थाना क्षेत्रों के रहने वाले हैं. पुलिस ने इनके ऊपर लूट डकैती सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर जेल भेज दिया है. पूछताछ में सभी अभियुक्तों ने बताया कि लूट कर मोबाइलों को बेचकर गर्लफ्रेंड के पीछे पैसा खर्च करते थे. 

जानें कौन हैं अपराधी, कितनी है इनकी आयु?

पकड़े गए शातिर लुटेरों की उम्र 15 से 18 वर्ष  के बीच की है. ये लोग शहरों में लूट व चोरी की वारदात को अंजाम देते थे. मार्केट में फोन पर बातें कर रहे महिलाओं व पुरुषों को निशाना बनाते थे. चलती बाइक से मोबाइल छीन कर भाग लेते थे और मोबाइल फोन को बेच कर अपनी गर्ल फ्रेंड और अपने शौक को पूरा करने के लिए खर्च करते थे इसमें से कुछ लोग पढ़ाई भी कर रहे हैं और कुछ आर्मी की तैयारी भी कर रहे हैं.

पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर इनके पास से बरामद रुपए व अन्य सामान को कब्जे में ले लिया और पूरी जांच में जुटी हुई है अभी शातिर लुटेरों में से सुधांशु पांडे, आशीष जयसवाल, शशांक दुबे, शिवम सिंह और शिवम तिवारी ये सभी तरबगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले थे इनके पास से लूट का 3000 नगद, नौ मोबाइल फोन, दो चोरी की मोटरसाइकिल बरामद हुई हैं.

पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि गोंडा में कई दिनों पहले मोबाइल लूट के संबंध में शिकायत दर्ज कराई गई थी जिसमें मुकदमा पंजीकृत कर एसओजी की टीम लगाई गई थी जिसमें बड़ी सफलता हाथ लगी है. अलग-अलग गैंग से 5 लोगों की गिरफ्तारी हुई है. उन्होंने कहा कि जो लोग ऐसे मामले में संलिप्त उन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा और उन पर कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें

Back to top button