टेकताज़ातरीन

आखिर क्यों फेसबुक पर लगा है 15 करोड़ पाउंड का जुर्माना, किस कंपनी को बेचेगा Meta

Fine on Meta in Britain: फेसबुक (Facebook) के लिए पिछले कुछ दिनों से कुछ भी ठीक होता नहीं दिख रहा. पहले अमेरिका (America) में एफटीसी (FTC) की ओर से उस पर एकाधिकार को लेकर केस दर्ज होना, इसके बाद पिछले दिनों यूजर्स के घटने की खबर आई. अब कंपनी के लिए निराश करने वाली खबर ब्रिटेन (Britain) से आई है. यहां मेटा (Meta) पर करीब 15 करोड़ पाउंड का जुर्माना लगाया गया है. कंपनी की समस्या यहीं खत्म नहीं हुई है. ब्रिटेन के कॉम्पिटिशन रेगुलेटर ने जुर्माने के साथ ही मेटा (Meta) को अपने एक प्लेटफॉर्म को बेचने का आदेश भी दिया है. चलिए आपको विस्तार से बताते हैं इस पूरे मामले को.

इस वजह से हुई कार्रवाई

रिपोर्ट के मुताबिक, मेटा (Meta) ने मई 2020 में 40 करोड़ डॉलर खर्च करके ऐनिमेटेड इमेज प्लेटफॉर्म गिफी (Giphy) को खरीदा था. मेटा ने इस डील के बाद उसके डिजिटल एडवर्टाइजिंग (Digital Advertising) पर होने वाले प्रभाव के बारे में नहीं बताया है. इस मामले को गंभीर मानते हुए ब्रिटेन की कॉम्पिटिशन एंड मार्केट्स अथॉरिटी (CMA) ने मेटा पर 15 करोड़ पाउंड का जुर्माना लगा दिया है. यही नहीं अथॉरिटी का कहना है कि मेटा (Meta) गिफी (Giphy) को चलाने के लिए सभी जरूरतों को पूरा नहीं कर रही है. ऐसे में उसे इस प्लेटफॉर्म को बेचने के आदेश भी अथॉरिटी ने दिए हैं. वहीं मेटा इस कार्रवाई से खुश नहीं है. कंपनी का कहना है कि यह ठीक फैसला नहीं है. हालांकि हम फाइन भर देंगे.

पहले भी भरना पड़ा है जुर्माना

मेटा (Meta) पर सीएमए (CMA) की तरफ से इस तरह की कार्ऱवाई पहली बार नहीं की गई है. अथॉरिटी इससे पहले भी मेटा पर जुर्माना लगा चुकी है. अक्टूबर 2021 में अथॉरिटी ने फेसबुक (Facebook) पर करीब 5.05 करोड़ पाउंड का जुर्माना लगाया था. बता दें कि पिछला 1 हफ्ता कंपनी के लिए सही नहीं गुजरा है. पिछले दिनों जारी किए गए डेटा के मुताबिक उसके यूजर्स बड़ी संख्या में कम हुए हैं.

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button