मनोरंजन

फिल्म ‘सूर्यवंशी’ में मुस्लिम खलनायक पर हंगामा करने वालों को रोहित शेट्टी ने दिया करारा जवाब

इन दिनों रोहित शेट्टी (Rohit Shetty) की फिल्म ‘सूर्यवंशी’ (Sooryavanshi) बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रही है. फिल्म की कामयाबी से रोहित शेट्टी बेहद खुश...

[ad_1]

नई दिल्ली. इन दिनों रोहित शेट्टी (Rohit Shetty) की फिल्म ‘सूर्यवंशी’ (Sooryavanshi) बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रही है. फिल्म की कामयाबी से रोहित शेट्टी बेहद खुश नजर आ रहे हैं. मगर ऐसा लगता है कि कुछ लोगों को उनकी यह खुशी देखी नहीं जा रही है. सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है कि आखिर उन्होंने फिल्म ‘सूर्यवंशी’ (Sooryavanshi) में मुस्लिम किरदार (Muslim Charachter) को विलेन के तौर पर क्यों दिखाया? रोहित शेट्टी ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए आलोचना करने वालों को करारा जवाब दिया है. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा है कि जब उनकी फिल्मों में हिंदू खलनायक होते हैं, तब तो किसी को कोई आपत्ति नहीं हुई.

अक्षय कुमार (Akhsay Kumar) और कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) स्टारर फिल्म ‘सूर्यवंशी’ (Sooryavanshi) की कहानी पुलिस और आतंकवादियों के इर्द-गिर्द घूमती है. आतंकवादी आरडीएक्स के साथ मुंबई पर हमला करने का प्लान बनाते हैं, जिसमें मुस्लिम किरदार को विलेन दिखाया गया है. इसी कैरेक्टर को लेकर कंट्रोवर्सी खड़ी हो गई है. क्विंट को दिए गए एक इंटरव्यू में फिल्म ‘सूर्यवंशी’ में दिखाए गए मुस्लिम खलनायकों की आलोचना का जवाब दिया है. उन्होंने अपने इंटरव्यू में कहा है, ‘पिक्चर बनाते समय उनके मन में कहीं भी किसी विशेष जाति या धर्म से संबंधित किरदार को विलेन बनाने की बात नहीं थी.’

इंटरव्यू में रोहित शेट्टी से फिल्म ‘सूर्यवंशी’ में ‘अच्छे मुस्लिम और बुरे मुस्लिम’ के नरेटिव के बारे में सवाल किया गया. इस पर रोहित ने कहा, ‘मैं आपसे एक प्रश्न पूछता हूं मेरी फिल्म ‘सिंघम’ में मुख्य विलेन ‘जयकांत शिकरे’ हिंदू था. साथ ही मेरी दूसरी फिल्म ‘सिंघम रिटर्न्स’ और ‘सिम्बा’ में भी मेन विलेन हिंदू ही थे. जब मेरी इन सारी फिल्मों में मुख्य खलनायक हिंदू किरदार थे, तब ऐसे सवाल नहीं उठे.’

रोहित शेट्टी ने साफ-साफ कहा, ‘यदि कोई टेररिस्ट पाकिस्तानी है, तो उसकी कास्ट क्या होगी? और हम यहां फिल्म में कास्ट की बात नहीं कर रहे हैं. हमने फिल्म बनाते वक्त ऐसा सोचा भी नहीं, फिर ऐसी बातें क्यों की जा रही है.’

साथ ही रोहित ने अपने इंटरव्यू में यह भी बताया, ‘वो अपने दर्शकों को अच्छी तरह जानते हैं. उनका काम दर्शकों का मनोरंजन करना है न कि किसी की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करना. लिहाजा, वह फिल्में बनाते वक्त उन बातों का पूरा ख्याल रखते हैं जिनसे किसी की भावनाओं को ठेस न पहुंचे.’

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button