ताज़ातरीन

क्या है Bulli Bai App, रैले गिटहब पर करता है काम, यहां जानिए विस्तार से

Bulli Bai: पिछले कुछ दिनों से देश में दो शब्दों ने मीडिया (Media) से लेकर सोशल मीडिया (Social Media) तक गहमागहमी बढ़ा दी है. इस पर सोशल मीडिया पर तो खूब चर्चा हो ही रही है. साथ ही यह राजनीतिक मुद्दा भी बन गया है. ये दो शब्द हैं बुल्ली बाई (Bulli Bai), इसकी चर्चा आजकल खूब हो रही है. आइए आपको विस्तार से बताते हैं कि क्या है यह बुल्ली बाई और क्यों इसे लेकर इतना बखेड़ा खड़ा हो रहा है.

इस तरह समझें क्या है बुल्ली बाई

बुल्ली बाई (Bulli Bai) ऐप गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) या ऐप स्टोर (App Store) पर नहीं मिलता. यह गिटहब (Github) नाम के प्लेटफॉर्म पर मौजूद है. आसान शब्दों में कहें तो यहां मुस्लिम महिलाओं की बोली लगाई जा रही थी. जब आप इस ऐप को ओपन करते हैं तो स्क्रीन पर मुस्लिम महिलाओं (Muslim Womens) का चेहरा नजर आता है, जिसे बुल्ली बाई नाम दिया गया है. इसमें उन मुस्लिम महिलाओं का नाम यूज किया जा रहा है जो सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं. इन मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों को प्राइसटैग (Muslim Women Bidding) के साथ साझा किया गया है.

यही नहीं, बुल्ली बाई नाम के एक ट्विटर (Twitter) हैंडल से इसे प्रमोट भी किया जा रहा था. इस हैंडल पर मुस्लिम महिलाओं को बुक करने की भी बात लिखी गई थी. हालांकि भारत सरकार (Indian Government) के दखल के बाद अब इस ऐप (App) और इस ट्विटर हैंडल (Twitter handle) को हटा दिया गया है.

गिटहब (Github) क्या है

बुल्ली बाई ऐप गिटहब (Github) प्लेटफॉर्म पर ही मौजूद था. ऐसे में यहां ये भी समझना जरूरी है कि आखिर गिटहब क्या है. गिटहब एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म (Open Source Platform) है और यह अपने यूजर्स को कोई भी ऐप क्रिएट करने और उन्हें शेयर करने का ऑप्शन देता है. आप यहां पर्सनल या प्रोफेशनल किसी भी तरह का ऐप शेयर करने के साथ ही उसे बेच भी सकते हैं.

सुल्ली डील्स की तरह बुल्ली बाई

अभी तक जो जानकारी सामने आई है, उस हिसाब से बुल्ली बाई ऐप बिल्कुल सुल्ली डील्स (Sulli Deals) की तरह है. सुल्ली डील्स पिछले साल सुर्खियों में आया था. उसमें भी मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरों का मिसयूज किया गया था. खास बात ये है कि सुल्ली डील्स को भी गिटहब प्लेटफॉर्म पर ही चलाया गया था. हालांकि शिकायत मिलते ही दिल्ली पुलिस ने कार्रवाई की थी और एक बार फिर बुल्ली बाई ऐप मामले में भी दिल्ली पुलिस सक्रिय हो गई है. पुलिस ने गिटहब से इसे बनाने वाले की जानकारी मांगी है. साथ ही ट्विटर से उस अकाउंट की डिटेल मांगी गई है, जिसने पहली बार इसे ट्वीट किया था.

यह भी पढ़ें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button